Application Software Kya Hai

Application Software kya Hai And (Its Types)

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर वे सॉफ्टवेयर होते हैं जो विशिष्ट कार्य को करने के लिए उनका प्रयोग किया जाता है एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर का संबंध उपयोगिता से होता है सॉफ्टवेयर तथा एप्स के जरिए इनका उपयोग करते हैं इसे अंतिम यूजर भी कहा जाता है एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर एक प्रोग्राम है वे यूजर को डॉक्यूमेंट सेंड करना Email Id मोबाइल पर गेम खेलना Business करना ग्राफिक डिजाइन करना एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर उस काम को अच्छी तरीके से करता है जिसके लिए से डिजाइन किया जाता है यूजर को इच्छित काम करने के लिए इसका उपयोग करते हैं एमएस ऑफिस में ऑफिस का काम करने के लिए इसका उपयोग करते हैं नोटपैड का प्रयोग लिखने के लिए करते हैं मीडिया प्लेयर का काम वीडियो को दिखाना तथा गाने को सुनना होता है
उदाहरण के लिए हम ले सकते हैं
Media Player -        वीडियो तथा ऑडियो को प्ले करना
Notepad                  लिखने का कार्य कर सकते हैं
M.S Office               इसमें हम ऑफिस का कार्य कर सकते हैं ऑफिशियल वर्क


एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर का Work  हमारे काम को सरल बनाने के लिए किया जाता है एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर यूजर की मदद करते हैं और अपना अच्छा योगदान करते हैं एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर क्या है इसके बारे में पूरी जानकारी दी गई है और यह कितने प्रकार के होते हैं इनका उपयोग हम कहां कहां पर करते हैं और इसके द्वारा कई कार्य किए जा सकते हैं Application Software kya Hai हमारी इस पोस्ट में एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर के बारे में बताया गया है और सिस्टम सॉफ्टवेयर क्या होता है यह जानने के लिए हमारी  दूसरी पोस्ट पर क्लिक करें एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर स्टाफ के लिए विशिष्ट है जिसके लिए इसे डिजाइन किया जाता है 

What is Applictaion Software in Hindi (एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर क्या है)

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर वे सॉफ्टवेयर होते हैं जो विशिष्ट कार्य को करने के लिए उनका प्रयोग किया जाता है एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर के कार्य  सहायता प्रदान करते हैं सॉफ्टवेयर तथा एप्स के जरिए इनका उपयोग करते हैं इसे अंतिम यूजर भी कहा जाता है एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर एक प्रोग्राम है वे यूजर को डॉक्यूमेंट सेंड करना ईमेल आईडी मोबाइल पर गेम खेलना बिजनेस करना ग्राफिक डिजाइन करना एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर उस काम को अच्छी तरीके से करता है जिसके लिए से डिजाइन किया जाता है यूजर को इच्छित काम करने के लिए इसका
उपयोग करते हैं एमएस ऑफिस में ऑफिस का काम करने के लिए इसका उपयोग करते हैं Notepad का प्रयोग लिखने के लिए करते हैं मीडिया प्लेयर का काम वीडियो को दिखाना तथा गाने को सुनना होता है

Application Definition In hindi

(एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर की परिभाषा)एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर User के लिए डिजाइन किया जाता हैएप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को अंतिम यूजर भी कहा जाता है इसका उपयोग नोटपैड एमएस ऑफिस मीडिया प्लेयर आदि कई जगह पर एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर का उपयोग करते हैं एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर क्या है तथा इसके कितने प्रकार होते हैं आपको पूरी जानकारी
मिलेगी

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं?  (Types Of Applaction Software)

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर 2  प्रकार के होते हैं
1.रेडीमेड सॉफ्टवेयर              ReadyMade Software
2.कस्टमाइज्ड सॉफ्टवेयर         Customized Software

रेडीमेड सॉफ्टवेयर (Readymade Software)

ReadyMade Software वे Software होते हैं जो Market  में एक पैकेज (Package) के रूप में क्रय किये जासकते हैं। इन सॉफ्टवेयर को रेडीमेड सॉफ्टवेयर कहते हैं उदाहरण के लिए

Types of रेडीमेड सॉफ्टवेयर (ReadyMade सॉफ्टवेयर के प्रकार)


1.डाटाबेस मैनेजमेन्‍ट सॉफ्टवेयर (Database Management Software)

2.इलैक्‍ट्रानिक स्‍प्रेडशीट सॉफ्टवेयर (Electronic Spreadsheet Software)

3.वर्ड-प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर (Word Processing Software)

4.Coustmer Relationship Management Software (कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजमेंट ) 

5.डेस्‍कटॉप पब्लिशिग सॉफ्टवेयर (Desktop Publishing Software)

6.एकान्‍उन्टिंग सॉफ्टवेयर (Accounting Software)

7.कॉम्‍यूनिकेशन सॉफ्टवेयर (Communication Software)

8.ग्राफिक्‍स सॉफ्टवेयर (Graphics Software)

9.मल्‍टीमीडिया सॉफ्टवेयर (Multimedia Software)

10.प्रेजेन्‍टेशन सॉफ्टवेयर (Presentation Software)

11.बिजनेस एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर (Business Application Software)

12.टाइम मैनेजमेंट सॉफ्टवेयर (Time Management Software )

1.डाटाबेस मैनेजमेन्‍ट सॉफ्टवेयर (Database Management Software)

इस प्रकार के सॉफ्टवेयर का उपयोग डाटा को स्टोर करने के लिए किया जाता है अनाधिकृत एक्‍सेसिंग (Unauthorised Accessing) से रोकते है नेटवर्क के द्वार डाटा को शेयर भी किया जा सकता है बाबा के सॉफ्टवेयर मैनेजमेंट सॉफ्टवेयर डाटा को आसानी से हैंडल कर सकते हैं इस कारण डेटाबेस सॉफ्टवेयर का उपयोग बड़ी-बड़ी संस्थाओं बैंकिंग और भी कई जगह उपयोग किया जाता है 

2.इलैक्‍ट्रानिक स्‍प्रेडशीट सॉफ्टवेयर (Electronic Spreadsheet Software)

इलेक्ट्रॉनिक स्‍प्रेडशीट सॉफ्टवेयर का उपयोग डाटा को एनालाइज करने के लिए किया जाता हैएक पेपर की सीट होती हैं जिसमें पंक्तियां और कॉलम होते हैं स्प्रेडशीट सॉफ्टवेयर के द्वारा पंक्तियां और कॉलम का उपयोग एक टेबल बनाने के लिए किया जाता है उपयोग हम सरकारी रिजल्ट बैंक भविष्यवाणी करने हिसाब किताब करने आदि कई जगह किया जाता है

3.वर्ड-प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर (Word Processing Software)

वर्ड प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर का उपयोग आप टेस्ट को छोटा करना बड़ा करना और उसमें कलर करने कैट को एडिट करके बड़ा कर सकते हैं औरPrint भी निकाल सकते वर्ड प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर का उपयोग विभिन्न प्रकार के डॉक्यूमेंट को बनाने बायोडाटा को बनाने और उसमें एडिट करके कलर कर सकते हैं और Resize भी कर सकते हैं आयात निर्यात लाइन इत्यादि भी कर सकते हैं और पेंट भी बना सकते हैं

4.Coustmer Relationship Management Software (कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजमेंट सॉफ्टवेयर)

कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजमेंट यह कंपनियां दोबारा अधिकतर प्रयोग में लाया जाता है यह सॉफ्टवेयर बिजनेस सॉफ्टवेयर का इंतजार है आपस में बातचीत करनेने हमें किस प्रकार से बात करनी है तथा कस्टमर को किस प्रकार से समझाना है और उसे डील करना है आधे कई प्रकार की जानकारी दी जाते हैं 

5.डेस्‍कटॉप पब्लिशिग सॉफ्टवेयर (Desktop Publishing Software)

डेस्‍कटॉप पब्लिशिंग सॉफ्टवेयर का प्रयोग पब्लिशिंग इन्‍डस्‍ट्री (Publishing Industry) में किया जाता हैं। ये Software टैक्‍स्‍ट के फॉर्मेट को कम्‍पोज (Compose) करने, Page के Layout का निर्धारण करने और ऑब्‍जेक्‍ट को ड्रॉ (Draw) करने की सुविधा प्रदान करता हैं।DTP सॉफ्टवेयर ग्राफिक पैकेज (Graphic Package) से ग्राफिक ऑब्‍जेक्‍ट (Graphic Object) को ड्रा (Draw) करने जैसे, चार्ट (Chart), ग्राफ (Graph) और पिक्‍चर (Picture) को इम्‍पोर्ट (Import) करके, किसी भी डॉक्‍यूमेंट पेज इन्‍सर्ट (Insert) करने की सुविधा भी प्रदान करते हैं। इत्‍यादि प्रमुख DTP सॉफ्टवेयर के कुछ उदाहरण हैं।

6.एकान्‍उन्टिंग सॉफ्टवेयर (Accounting Software)

इस प्रकार के साफ्टवेयर पैकेज का उपयोग Account  अकाउंट संबंधित कार्यों को सम्‍पादित करने के लिए किया जाता हैं। ये Software व्‍यापारिक संस्‍थाओं के लिए अति उपयोगी हैं। ये Software निम्‍नलिखित सुविधाएँ
प्रदान करते हैं-
इन्‍वेन्‍टरी कंट्रोल फैसिलिटी (Inventory Control Facility)
टैक्‍स प्‍लानर फैसिलिटी (Tax Planner Facility)
पे-रोल प्रोसेसिंग फैसिलिटी (Pay-Roll Processing Facility)
स्‍टॉक-कोटिंग फैसिलिटी (Stock Quoting Facility)
इनवॉइस क्रिएट करने की सुविधा (Facility of Creating Invoices)
Data को ग्राफ के माध्‍यम से दर्शाने की सुविधा Facility of Representing Data with Graph)
Tally, Quicken इत्‍यादि Accounting Software के कुछ प्रमुख उदाहरण हैं।

7.कॉम्‍यूनिकेशन सॉफ्टवेयर (Communication Software)

Data को एक Computer से दूसरे कम्‍प्‍यूटर पर भेजने के लिए कम्‍यूनिकेशन सॉफ्टवेयर (Communication Software) का उपयोग किया जाता हैं। उदाहरण के लिए, Computer File  को नोटबुक कम्‍प्‍यूटर (Note Book Computer) से डेस्‍कटॉप कम्‍प्‍यूटर (Desktop Computer) पर Transfer करने के लिए Lap link नामक कम्‍यूनिकेशन सॉफ्टवेयर का प्रयोग किया जाता हैं।Win Fax Pro 4.0 एक कम्‍प्‍यूनिकेशन सॉफ्टवेयर हैं।

8.ग्राफिक्‍स, मल्‍टीमीडिया और प्रेजेन्‍टेशन सॉफ्टवेयर (Graphics, Multimedia and Presentation Software)

वे सॉफ्टवेयर जो इनफॉरमेशन को पिक्‍चर (Picture) या ग्राफ (Graph) के रूप में प्रदर्शित करने के लिए प्रयोग किये जाते हैं उन्‍हें ग्राफिक्‍स सॉफ्टवेयर कहते हैं। ग्राफिक्‍स के द्वारा इन्‍फॉर्मेशन को समझना एवं समझाना, दोनों बड़े सरल हो जाते हैं। इसके माध्‍यम से 2-D एवं 3-D व्‍यू (View) भी आसानी से ड्रॉ (Draw) किए जा सकते हैं। Paintbrush, CorelDraw इत्‍यादि ग्रॉफिक सॉफ्टवेयर है।

9.मल्‍टीमीडिया सॉफ्टवेयर(Multimedia Software)

मल्‍टीमिडिया सॉफ्टवेयर के प्रयोग से किसी भी ग्राफिक्‍स को एनिमेट (Animate) किया जा सकता हैं। इस प्रकार के सॉफ्टवेयर की सहायता से साउण्‍ड (Sound) को क्रिएट (Create) तथा उसे किसी भी ऑब्‍जेक्‍टसे भी जोड़ा जा सकता हैं। इस प्रकार किसी भी ग्राफिक में एनीमेशन (Animation) तथा साउण्‍ड (Sound) डालकर उसे जीवंतता प्रदान करके अधिक सुन्‍दर एवं प्रभावशाली बनाया जा सकता हैं। Macromedia तथा Director मल्‍टीमीडिया सॉफ्टवेयर हैं।

10.प्रेजेन्‍टेशन सॉफ्टवेयर(Presentation Software)

प्रेजेन्‍टेशन सॉफ्टवेयर वे सॉफ्टवेयर होते हैं जो प्रस्‍तुति (Presentation) तैयार करने के लिए प्रयोग किये जाते हैं। प्रेजेन्‍टेशन के माध्‍यम से विचारों (Ideas) को प्रभावशाली रूप से प्रस्तुत किया जा सकता हैं। ग्राफिक सॉफ्टवेयरभी प्रेजेन्‍टेशन सॉफ्टवेयर के अन्‍तर्गत आते हैं। PowerPoint और Haward Graphics प्रेजेन्‍टेशन सॉफ्टवेयर हैं।

11.बिजनेस एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर Business Application Software

बिजनेस एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर का उपयोग Time समय बचाने के लिए तथा उसको सटीकता से सही Work करने के लिए किया जाता है यह सॉफ्टवेयर काम समय बचाते हैं बिजनेस एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर अपने काम के जरिए से हमारा समय बचाते हैं

12.टाइम मैनेजमेंट सॉफ्टवेयर (Time Management Software )

मैनेजमेंट सॉफ्टवेयर सॉफ्टवेयर होता है कि यह जानकारी प्राप्त करता है कि किसी व्यक्ति ने किसी सॉफ्टवेयर का उपयोग कितने टाइम तक किया हैउदाहरण के लिए हम बता सकते हैं कोई सॉफ्टवेयर को कितने समय तक चलाना और गेम खेलना इन सब की रिकॉर्ड रखना टाइम मैनेजमेंट सॉफ्टवेयर का काम होता है

2.Customized Software-

कस्टमाइज्ड सॉफ्टवेयर का उपयोग यूजर की आवश्यकताआवश्यकताओ का उपयोग करने के लिए किया जाता है बैंकिंग ,भारतीय रेलवे , सरकारी नौकरियां और भी कई जगह कस्टमर मार्ग सॉफ्टवेयर का उपयोग किया जाता है और भी कई जगह कस्टमाइज्ड सॉफ्टवेयर  का उपयोग करते हैं
इन्हें भी पढ़ें -

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां