Insurance kya hai? What is Insurance? | बीमा क्या है, इसके प्रकार और फायदे ! Insurance types ! Full Information in Hindi 2020


आपने बीमा का नाम तो सुना ही होगा  बीमा क्या  क्या है और बीमा क्यों जरूरी होता है बीमा से क्या-क्या लाभ होते हैं बीमा क्या है (What is insurance)  बीमा कितने प्रकार के होते हैं (Insurance types) इसके बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी 


what is insurance, insurance types, insurance kya hai,

Insurance kya hai


बीमा क्या है?- What is Insurance In Hindi:-


तो जानते हैं बीमा क्या है ( What is Insurance) और बीमा क्यों जरूरी होता है तो सबसे पहले हम बात करेंगे हेल्थ इंश्योरेंस की यह बीमा  उस व्यक्ति के लिए होता है जिसे कोई बीमारी  हो जाती है और वह इस हेल्थ इंश्योरेंस के द्वारा  अपना इलाज कब खर्च लेकर सकता है जिसका भुगतान वह कंपनी करेगी जिससे आपने हेल्थ इंश्योरेंस किया है

जीवन बीमा भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है यह बीमा भविष्य में होने वाली  नुकसान और उसकी भरपाई करता है व्यक्ति नहीं जानता कल किसी को क्या हो जा इंश्योरेंस का मतलब होता है जोखिम से सुरक्षा दिलाना अगर कोई कंपनी किसी व्यक्ति का बीमा करती है उसके आर्थिक नुकसान की भरपाई बीमा कंपनी करेगी 
  


बीमा क्यों जरूरी है?

जीवन बीमा पॉलिसी क्यों खरीदना चाहिए? जीवन बीमा पॉलिसी व्यक्ति के नहीं रहने की स्थिति में उसके परिवार को वित्तीय जोखिम से सुरक्षा देता है. ... अगर किसी बीमारी या दुर्घटना की वजह से इस व्यक्ति की मौत हो जाती है तो उसके नहीं रहने की स्थिति में उसका परिवार सड़क पर नहीं जाय, इसके लिए बीमा पॉलिसी खरीदना जरूरी है



बीमा से क्या लाभ है?

आपकी जीवन बीमा पॉलिसी आपको गंभीर बीमारियों से होने वाले खर्चों और हानियों से आपकी आर्थिक रूप से रक्षा करती है। कुछ प्रकार के कैंसर, पहला दिल का दौरा, स्ट्रोक जैसी बीमारियों और ओपन चेस्ट सीएबीजी जैसी सर्जरी के लिए भी अगर कभी हमें कोई खर्च करना पड़े, तो उस खर्च को कवर करने के लिए भी इसमें राइडर्स उपलब्ध हैं।



इन्हें भी पढ़ें -





सबसे अच्छा बीमा कौन सा है?

एलआईसी आपकी जीवन बीमा आवश्यकताओं के लिए विचार करने वाली सबसे अच्छी कंपनी है।



इंश्योरेंस कितने प्रकार के होते हैं? Types of Insurance in Hindi


इंश्योरेंस दो प्रकार के होते हैं

1.    जीवन बीमा
2.    साधारण बीमा


1.जीवन बीमा जीवन बीमा ( Life Insurance )  का मतलब होता है  बीमा खरीदने वाले व्यक्ति की मृत्यु होने पर उसके परिवार वालों को कंपनी की तरफ से मुआवजा प्राप्त होगा 



2.साधारण बीमा -  इस बीमा के अंतर्गत वाहन घर पशु बीमा आदि बीमा इसके अंदर आते हैं



घर का बीमा  - अगर आपने अपने घर का बीमा अच्छी कंपनी से करवाया है इससे आपके घर की सुरक्षा होती है मकान में किसी भी तरह का नुकसान होता है उसका हर्जाना बीमा कंपनी देती है 


अगर आपका घर प्राकृतिक आपदा  नुकसान होता है   आकाशी बिजली, भूकंप का जाना ,घर पर आग लग जाना ,घर पर चोरी हो जाना, लड़ाई दंगे से आपको नुकसान होता है इस प्रकार के नुकसान घरेलू बीमा के अंतर्गत आते हैं और उन सब का  भुगतान बीमा कंपनी करेगी



वाहन बीमा -  वाहन बीमा के अंतर्गत हम बात करते हैं कि अगर आपका वहां चोरी हो जाता है या आप यात्रा करते समय वाहन में कोई क्षतिग्रस्त  हो जाती है तो आप  वाहन बीमा  बकिया कार चोरी होने का  का पैसा देगी और इसके लिए वही कंपनी मरम्मत करवाएगी जिस कंपनी से आपने बीमा किया है



स्वास्थ्य बीमा -   स्वास्थ्य बीमा के अंतर्गत हम बात करते हैं कि अगर किसी व्यक्ति ने अपना स्वास्थ्य बीमा करवाया है और उसे बुखार, मलेरिया  या कोई भी बीमारी होने पर इन सब के इलाज के लिए  बीमा कंपनी आप की दवा करवाएगी


यात्रा बीमा - यात्रा बीमा किसी भी यात्रा से होने वाले नुकसान से बचाती है अगर कोई व्यक्ति कहे विदेश जाते समय या किसी सरकारी बस पर यात्रा करते समय अगर आपका सामान चोरी होता है या खो जाता है तो उसका भरपाई बीमा कंपनी करेगी


फसल बीमा - फसल बीमा उन लोगों के लिए अनिवार्य होता है जो लोग कृषि के लिए लोन लेकर उस पर कार्य करते हैं सर बीमा के तहत अगर किसी भी प्रकार का नुकसान होने पर बीमा कंपनी किसान को उसका मुआवजा देती है 


फसल बीमा की सबसे बहुत की  कठिन है क्योंकि अगर किसी भी प्रकार का नुकसान होने पर बीमा कंपनी उस खेत को देखेगी की फसल का नुकसान हुआ है कि नहीं  इस प्रकार की कठिनाई के कारण बहुत से लोग फसल बीमा नहीं करवाते हैं



बीमा कुल मिलाकर 7 प्रमुख प्रकार के होते हैं (7 Types Insurance in hindi)


1.  टर्म बीमा इस प्रकार की बीमा, निश्चित अवधि के लिए होता है। ...
2.   पूरे जीवन का बीमा अगर कोई पूरे जीवन का बीमा लेना चाहता है तो उसे लाइफ कवरेज लेना होगा। ...
3.   एंडोमेंट पॉलिसी ...
4.   मनी बैक प्लान या कैश बैक प्लान ...
5.   बच्चों के लिए पॉलिसी ...
6.   पेंशन प्लान ...
7.  यूलिप



बीमा अधिनियम कब लागू हुआ?

भारत में बीमा क्षेत्र को अभिशासित करने के लिए प्रधान अधिनियम बीमा अधिनियम, 1938 है।


जीवन बीमा कैसे होता है?


जीवन बीमा ( Life Insurance): जीवन बीमा ( Life Insurance) का मतलब यह है कि बीमा पॉलिसी खरीदने वाले व्यक्ति की मृत्यु होने पर उसके आश्रित को बीमा कंपनी की तरफ से मुआवजा मिलता है. अगर परिवार के मुखिया की असमय मृत्यु हो जाती है तो घर का खर्च चलाना मुश्किल हो जाता है.



भारतीय जीवन बीमा निगम के चेयरमैन कौन है?



क्या LIC सरकारी है?


भारतीय जीवन बीमा Company निगम या एलआईसी, भारत की सबसे बड़ी जीवन बीमा (Life Insurance Comapny) कंपनी है और देश की सबसे बड़ी निवेशक कंपनी भी है। यह पूरी तरह से भारत सरकार के स्वामित्व में है। इसकी स्थापना सन् १९५६ में हुई। इसका मुख्यालय भारत की वित्तीय राजधानी मुंबई में है।


LIC कितना ब्याज मिलता है?

जानें 1 लाख की एफडी (FD) पर कितना मिलेगा 1 साल के बाद एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस (LIC Housing Finance) अभी 1 साल की एफडी पर 8.15 फीसदी ब्याज दे रहा है। ऐसे में अगर कोई यहां पर 1 लाख रुपये जमा करता है तो उसे 1 साल बाद 108316 रुपये वापस मिलेगा। इसमें 1 लाख रुपये मूलधन है और 8,316 रुपये ब्याज के रूप में मिलेगा।

एलआईसी का मुख्यालय कहाँ है?



एलआईसी का सीईओ कौन है?

मुंबई, 14 मार्च (भाषा) भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के नए चेयरमैन एम. आर. कुमार ने बृहस्पतिवार को पदभार संभाल लिया।



एलआईसी का नया प्लान क्या है?


एलआईसी के चेयरमैन एमआर कुमार ने शनिवार (29 फरवरी, 2020) को दो नए यूनिट-लिंक्ड प्लान एलआईसी निवेश प्लस प्लान (UIN 512L317V01) और एलआईसी SIIP (UIN 512L334V01) प्लान लॉन्च किए। ... प्लान लेने वाला सिंगल प्रीमियम की राशि का चयन कर सकता है। पॉलिसी लेने वाले को कितनी राशि जमा करनी है वह चुन सकता है।

Tags- Insurance kya hai, What is Insurance, LIC Kya hai, Life Insurance, जीवन बीमा, Insurance kya hota hai in hindi, Insurance in hindi

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां